माँ भारती

Maabharati: A Hindi knowledge Sharing website, Legends of Mahatmas, Technologies, Health, Today History, Successful People's stories and other information.

Breaking

12 January 2019

जवाहर नेहरु से जुड़े 51 अनसुने किस्से , इतिहास , जीवन परिचय

जवाहरलाल नेहरू भारत के पहले प्रधानमंत्री थे. इनका परिवार कश्मीरी था बाद में इनका परिवार इलाहाबाद आ गया था. आइये जानते है इनके जीवन के अनसुने  36 किस्से -

  • जवाहरलाल नेहरू के आवास का नाम तीन मूर्ति भवन थे इसको इनकी मृत्यु के बाद 1964 में नेहरू संग्रहालय का रूप दे दिया था.
  • नेहरु जी को बच्चो से बहुत लगाव था और इसलिए उनका जन्म दिवस बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है.

  • नेहरु जी ने नवम्बर 1949 को बच्चों के नाम एक पत्र लिखा था इसमें उन्होंने लिखा "कुछ महीने पहले जापान के बच्चों ने मुझे पत्र लिखा और मुझसे अपने लिए हाथी भेजने को कहा. मैंने भारत के बच्चों की तरफ से उनके लिए एक नन्हा-सा हाथी भेजा है. यह हाथी दोनों देशों के बच्चों के बीच सेतु का काम करेगा." इससे आप अंदाजा लगा सकते है उनको बच्चो से कितना लगाव था.
  • जवाहर लाल नेहरू हमेशा से ही अंग्रेजी स्कूल में पढ़े थे इनको हिंदी नहीं आती थी. नेहरू ने गावों में घूम- घूम कर हिंदी सीखी थी.
  • भारत के प्रधानमंत्री के रूप में जवाहरलाल नेहरू चाहते थे कि भारत दोनों महाशक्तियो में से किसी के भी दबाव में न रहे और भारत कि अपनी एक स्वतंत्र आवाज और पहचान हो.
  • नेहरु के नाम पर एक विश्वविद्यालय भी है जिसे जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी या JNU के नाम से जाता है.
  • नेहरू लाल किले पर तिरंगा फहराने वाले पहले भारतीय शख्स थे.
  • एक बार एक बच्चे ने नेहरू जी से ऑटोग्राफ माँगा तो नेहरू ने ऑटोग्राफ दे दिया. पर बच्चे ने देखा कि इसमें तारीख नहीं है तो उस बच्चे ने तारीख लिखने को कहा तो नेहरू जी ने उर्दू में तारीख लिख दी तो उस बच्चे ने नेहरू जी से कहा  - यह तो उर्दू में है. इस पर नेहरू ने कहा - भाई तुमने sign अंग्रेजी सब्द का उपयोग किया मैंने अंग्रेजी में sign कर दिए. फिर तुमने तारीख उर्दू शब्द का उपयोग और मैंने उर्दू में लिख दी.
  • नेहरू जी लन्दन के हेरो स्कूल में पढ़ रहे थे. उनके पिता मोतीलाल नेहरू इनसे मिलने गये तो उन्होंने देखा नेहरू अपने जूतों पर खुद पोलिश कर रहे थे. यह देखकर मोतीलाल ने जवाहरलाल से कहा यह काम तुम नौकरों से भी करवा सकते हो. इस पर जवाहरलाल नेहरू कहा कि - जिस काम को मै खुद कर सकता हु वो नोकरो से क्यों कराऊ.
  • नेहरू के अनुसार "प्रत्येक राष्ट्र में राष्ट्रवाद का विशिष्ट स्थान है और उसे प्रसार मिलना चाहिए किंतु इसे आक्रामक तथा अंतरराष्ट्रीय विकास में बाधक नहीं बनने देना चाहिए." राष्ट्रवाद की भावना राष्ट्रीय उन्नति के लिए अनिवार्य है क्योंकि यह नागरिकों में एकता उत्साह व सहयोगी प्रवृत्ति को जन्म देती है, लेकिन राष्ट्रवाद की कुछ सीमाएं होना जरूरी हैं. नेहरू द्वारा धार्मिक और कट्टर राष्ट्रवाद को नकारा गया था.

  • बताया जाता है कि जवाहरलाल नेहरू ने सुभाषचंद्र बोस के परिवार कि 20 सालों तक जासूसी कारवाई थी.
  • जवाहरलाल नेहरू ने सरदार पटेल को बताये बिना धारा 370 को लागू कर दिया था. जिसका सरदार पटेल ने बाद में विरोध किया था.
  • जवाहरलाल नेहरू के नाई अक्सर आने में लेट हो जाता था. नेहरू ने इसका कारण पूछा तो नाइ ने कहा मेरे पास घड़ी नहीं है इसलिए लेट हो जाता हु. फिर नेहरू ने उनके लिए लन्दन से घड़ी लेकर आये.
  • सन 1912 में लंदन से वकालत करके भारत वापिस आये और वकालत शुरू कि थी.
  • सन 1916 में कमला नेहरु के साथ शादी के बंधन में बंधे.
  • सन 1917 में "होम रूल लीग" और सन 1919 को महात्मा गाँधी से मुलाक़ात हुई और स्वतंत्रता संग्राम में इनका सहयोग करना शुरू किया था.
  • सन 1920 से 1922 तक नेहरु जी ने भी असहयोग आन्दोलन में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया और इस समय इनको गिरफ्तार भी किया गया था.
  • सन 1924 को नेहरु जी को इलाहाबाद ( अब प्रयागराज ) का अध्यक्ष चुना गया था दो साल तक इस पद पर रहने के बाद 1926 में अंग्रेज सरकार का सहयोग न मिलने के कारण इस्तीफा दे दिया था.
  • सन 1928-29 का कांग्रेस का अधिवेशन मोतीलाल नेहरू कि अध्यक्षता में हुआ था जिसमे इन्होने ब्रिटिश साम्राज्य के अंदर ही संपन्न राज्य की मांग की थी परन्तु जवाहरलाल नेहरू व नेताजी सुभाषचंद्र बोस इसके विरोध में उतर आये और इन्होने पूर्ण स्वतंत्र राज्य की मांग की थी .
  • सन 1929 को लाहोर में हुए कांग्रेस के वार्षिक अधिवेशन में जवाहरलाल नेहरू को अध्यक्ष चुना गया था. इसके बाद पूर्ण स्वराज की मांग तेज हो गयी थी.
  • 26 जनवरी 1930 को जवाहरलाल नेहरू ने लाहौर में आजाद भारत का झंडा फहराया था. यहाँ से ही महात्मा गाँधी ने सविनय अवज्ञा आन्दोलन की शुरुआत की थी. जो कि बहुत सफल हुआ था.
  • 1935 के अधिनियम के अंतर्गत हुए निर्वाचन के उपरांत कांग्रेस ने कई राज्यों में प्रशासन का कार्यभार संभाला, जिससे नेहरू के आर्थिक नियोजन के विचार को नवीन आयाम प्राप्त हुए.
  • सन 1936-37 को कांग्रेस का एक बार फिर अध्यक्ष नियुक्त किया गया था.
  • सन 1942 में महात्मा गाँधी के भारत छोडो आन्दोलन में जवाहरलाल नेहरू ने सहयोग किया था और इस दौरान उनको जैल जाना पड़ा जिसके बाद 1945 को इनकी रिहाई हुई थी.
  • नेहरु देश के पहले प्रधानमंत्री थे. उनके नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी 1951, 1957 , 1962 के चुनाव जीती थी और वे लगातार 3 बार प्रधानमंत्री बने. आपको बता दे 1947 से 1951 के बीच कोई भी चुनाव नहीं हुआ था इसलिए नेहरु जी ही प्रधानमंत्री पद के लिए चुने गये थे.
  • सरदार पटेल की पहली प्रतिमा उनके उपप्रधानमंत्री रहते 1949 में गोधरा में स्थापित की गई थी. जिसका अनावरण नेहरू ने 22 फरवरी 1949 को किया था.
  • जनवरी 1950 में आजादी के बाद कांग्रेस का पहला अधिवेशन जयपुर में हुआ था. इस समय कडाके कि ठण्ड थी और इस समय देशभर से हजारो लोग आये थे. रात्रि में लोग नीचे सोने पर मजबूर थे. जब नेहरू को इस बात का पता लगा तो वे भी लोगो के बीच आ गये और कहा मै भी यही सोऊंगा. इसके बाद पूरे मैदान में चटाईयाँ बिछाई गयी जिसमे रात के दो बज गये थे.
  • फरवरी 1950 को जवाहरलाल नेहरू झुंझुनू के पिलानी (राजस्थान) गये जहां इनका स्वागत रेगिस्तानी हरी सब्जियों गाजर मूली से किया गया इस पर वे गुस्सा हो गये जिसके बाद सारी सब्जियाँ ग्रामीणों में बाँट दी गई.

  • पिलानी में ही नेहरू जी बालिका विद्यापीठ गये जहां बालिकाए " भारत माता कि जय के नारे लगा रही थी. तो नेहरू  जी ने बालिकाओ से पूछा कि ये "भारत माता" कौन है. बालिकाए शांत हो गयी और अपनी शिक्षिकाओ की और देखने लगी. अब नेहरू ने कहा इनको भी कहा मालूम " वास्तव में हमारा देश और सभी निवासी मिलकर भारत माता बनाते है.
  • 1952 का देश का पहला मंत्रीमंडल था इसमें 14 मत्री थे और सभी वर्गों को सम्मान अधिकार दिए गये थे. इस समय एक मात्र महिला जो मंत्री बनी थी वो राजकुमारी अमृत कौर थी. और इस मंत्रीमंडल में दो मुस्लिम नेता डॉ. अबुल कलाम आजाद व रफी अहमद किदवई शामिल थे.
  • जवाहरलाल नेहरू को 1955 में भारत के सर्वश्रेष्ठ सम्मान " भारत रत्न" से नवाजा गया था.
  • जवाहरलाल नेहरू नोबेल पुरूस्कार के लिए 11 बार नौमिनेट हो चुके है और कई बार शांति पुरूस्कार के लिए भी. परन्तु अभी तक उन्हें यह पुरूस्कार नहीं मिल पाया है.
  • जवाहरलाल नेहरु सबसे चर्चित भारत पाकिस्तान के बीच चल रहे कश्मीर विवाद को 31 दिसम्बर 1947 को सयुक्त राष्ट्र संघ में लेकर गये थे.
  • संसद में गो- हत्या का प्रस्ताव लाया गया तो नेहरू जी कहा अगर यह पास हो गया तो मै अपने पद से इस्तीफा दे दूंगा.
  • जवाहरलाल नेहरू ने राजस्थान के नागौर जिले के बगदरी गाँव में 2 अक्टूबर 1959 को पंचायती राज व्यवस्था की शुरुआत की थी.
  • JRD tata ने ब्यूटी प्रोडक्ट लैक्मे महिलाओ के लिए नहीं बल्कि जवाहरलाल नेहरू के कहने पर बनाया था.
  • नेहरू को खाने के बाद "555" नाम के ब्रांड कि सिगरेट पिने की आदत थी. नेहरू जी भोपाल गये जहाँ उनकी सिगरेट ख़त्म हो गयी. जब ये पूरे भोपाल में नहीं मिली तो एक विशेष विमान में इंदौर से मंगवाई गई.

  • जवाहर लाल नेहरु का निधन 27 मई 1964 को दिल्ली में हुआ था. नेहरु जी कि शवयात्रा 28 मई को दोपहर एक बजे निकाली गई थी. नेहरु जी का अंतिम संस्कार संजय गाँधी ने किया था जो इन्दिरा गाँधी के पुत्र थे. इनके शोक जूलूस कई मील लम्बा था जिसमे कई बड़े देश और विदेश से नेता शामिल हुए थे.

No comments:

Post a Comment

माँ भारती का नया लेख अपने ईमेल में पाए

जिस ईमेल में आप माँ भारती का नया लेख पाना चाहते है वह नीचे बॉक्स में इंटर करे:

Delivered by माँ भारती